निकाय चुनाव: सोशल मीडिया पर ताल ठोक रहे दावेदार

  • Devendra
  • 29/10/2020
  • Comments Off on निकाय चुनाव: सोशल मीडिया पर ताल ठोक रहे दावेदार

आरक्षण लाटरी निकलने के बाद से सक्रियता बढ़ी
बिजयनगर/गुलाबपुरा। (खारीतट सन्देश) निकाय चुनाव के लिए वार्डों की आरक्षण लाटरी निकलते ही सियासी बयार का रुख बदलने लगा है। मतदाताओं तक पैठ बनाने के लिए सोशल मीडिया पर दावेदारों ने चहलकदमी शुरू कर दी हैं। त्यौहारी सीजन में शुभकामना संदेश के बहाने ही सही, कार्यकर्ताओं व मतदाताओं की पूछ-परख बढ़ गई है। इस सियासी बिसात के लिए कोई मोहरा खोज रहा है तो कोई वजीर। हालांकि चुनाव की तारीखों की घोषणा अभी तक नहीं हुई है, लेकिन मुकाबला तो रोचक होगा, इसमें संदेह नहीं…।

पालिकाध्यक्ष व पार्षद पद के लिए वार्ड वार आरक्षण तय हो चुका है। पार्षदों की लॉटरी निकलने के साथ ही बिजयनगर-गुलाबपुरा के 35 वार्डों में दावेदारों की सक्रियता भी इन दिनो सोशल मीडिया पर बढ़ी हुई है। दावेदार त्यौहारों पर क्षेत्रवासियों को बधाई देने के पोस्टर व बैनर बनाकर सोशल मीडिया पर प्रसारित करने में जुटे हैं। वहीं दावेदारों की चर्चा शुरू हो गई है। अपने-अपने क्षेत्र में दावेदार वोट बैंक साधने की तैयारी में जुट गए हैं। हालांकि इन दिनों गुलाबी सर्दी शुरू हो चुकी है, लेकिन आगामी माह में चुनावी पारा बढऩे के साथ ही चुनावी सरगर्मियां रफ्तार पकड़ सकती है।

इस बार बिजयनगर व गुलाबपुरा में वार्ड परिसीमन के बाद 10-10 वार्ड बढ़कर 35-35 वार्ड हो चुके हैं। ऐसे में दोनों ही पालिका क्षेत्र में 10-10 नए जनप्रनिधियों को भी जनता की सेवा करने का मौका मिलेगा। बिजयनगर के विभिन्न प्रमुख चाय की होटलों, थडिय़ों पर इन दिनों बस यही चर्चा सुनी जा रही है कि इस बार बिजयनगर में पालिकाध्यक्ष का पद ओबीसी महिला का आरक्षित है, ऐसे में अभी तक कोई खुलकर दावेदार सामने नहीं आए हैं, जबकि ओबीसी पद होने से कई दावेदार खड़े होने की संभावना है।

इसी प्रकार वार्ड पार्षदों की इस बार निकली लॉटरी में कईयों के चहरे लटके तो कईयों की बांछें खिल उठी। लाटरी निकलने से पूर्व में जहां कयास लगाए जा रहे थे, वहीं लाटरी के तत्काल बाद सोशल मीडिया पर दावेदारों ने ताल ठोक कर चहलकदमी शुरू कर दी। बिजयनगर में जब से बोर्ड गठन हुआ तब से लेकर अब तक सिर्फ दो बार ही कांग्रेस का बोर्ड बना है। ऐसे में इस बार पालिका चुनाव दोनों ही पार्टियों के लिए अहम होगा। यहां गत चुनावों में कांग्रेस, भाजपा सहित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने जीत के लिए जोर लगाया जिसमें कांग्रेस को 13, भाजपा को 5, भाकपा को 4 व 3 निर्दलीय प्रत्याशी ने जीत हासिल की थी। इसमें सचिन सांखला की अगुवाई वाला कांग्रेस का बोर्ड बना। वहीं गुलाबपुरा में मुकाबला दोनों ही प्रमुख पार्टियों के मध्य हुआ था जिसमें भाजपा को 12 सीट, कांग्रेस को 8 व निर्दलीय के 5 प्रत्याशी विजयी हुए। यहां धनराज गुर्जर की अगुवाई में भाजपा का बोर्ड बना था।

बीते पांच वर्षों में गुलाबपुरा में कराए गए विकास कार्यों के दम पर तथा गुलाबपुरा में एक बार फिर सामान्य की सीट आरक्षित होने के चलते गुर्जर ने पुन: कमर कस ली है। धनराज पूरे जोश के साथ क्षेत्रवासियों के बीच में पहुंचकर अपनी उपलब्धियां गिना कर समर्थन जुटाने में लगे हैं। इस बात का पता इसी बात से चल रहा है कि बीते दो माह में धनराज गुर्जर का पालिका के विभिन्न वार्डों में भव्य स्वागत अभिनन्दन का दौर चल रहा है। हालांकि चुनावी हलचल अभी तक बिजयनगर में शुरू तो नहीं हुई लेकिन सोशल मीडिया पर नगर पालिका चुनाव का आगाज हो चुका है।

पंचायत समिति व जिला परिषद के चुनाव की तैयारी शुरू
पंचायत राज चुनावों के तहत सरपंचों के चुनाव सम्पन्न होने के साथ ही आगामी माह में पंचायत समिति सदस्य, जिला परिषद सदस्य एवं पंचायत समिति प्रधान व जिला प्रमुखों के चुनाव होंने है जिसके लिए दावेदार सक्रिय हो गए हैं। हुरड़ा, मसूदा व भिनाय पंचायत समिति प्रधान का पद इस बार सामान्य होने से दावेदारों ने चुनावी घोषणा होते ही सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यम से पंचायत समिति सदस्य के लिए दावेदारी शुरू कर दी है। वर्षों बाद हुरड़ा पंचायत समिति का प्रधान पद सामान्य वर्ग का होने से चुनावी मुकाबला रोचक रहेगा। हालांकि कुछ ऐसे दावेदार भी हैं जो सरपंच चुनाव में अपना दमखम दिखा चुके हैं, वो भी एक बार पुन: पंचायत समिति सदस्य एवं प्रधान पद के लिए तैयारी कर रहे हैं।

हुरड़ा, मसूदा व भिनाय पंचायत समिति में क्रमश: 19-19-19 सदस्य निर्वाचित होने हैं। भिनाय पंचायत समिति के लिए प्रथम चरण में 23 नवम्बर को मतदान होना है। वहीं हुरड़ा पंचायत समिति के लिए द्वितीय चरण में 27 नवम्बर को मतदान होना है व मसूदा पंचायत समिति के लिए तृतीय चरण में 1 दिसंबर को मतदान होगा। पंचायत समिति सदस्य एवं जिला परिषद सदस्यों की मतगणना 8 दिसंबर को होगी एवं जिला प्रमुख व प्रधान का चुनाव 10 दिसंबर को व उप जिला प्रमुख व उप प्रधान का चुनाव 11 दिसंबर को होगा। हालांकि दावेदारों की स्पष्ट स्थिति नाम वापसी 11 नवंबर के बाद ही साफ हो पाएगी। चारों मतदान चरणों में मतदान सुबह 7:30 से शाम 5 बजे तक होगा।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar