कोटा बैराज बांध से पानी छोड़े जाने के बाद धौलपुर में सेना बुलाई

  • Devendra
  • 15/09/2019
  • Comments Off on कोटा बैराज बांध से पानी छोड़े जाने के बाद धौलपुर में सेना बुलाई

भरतपुर। (वार्ता) राजस्थान में कोटा बैराज से चंबल नदी में भारी तादाद में पानी छोड़े जाने के बाद भरतपुर सम्भाग के सवाईमाधोपुर एवं धौलपुर जिलों में नदी किनारे बसे कई गावों का जिला मुख्यालय से सम्पर्क कट गया है और हालात बिगड़ने की आशंका के मद्देनजर धौलपुर में सेना को बुलाया गया है। कोटा बैराज से चम्बल नदी में 4 लाख 87 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने के बाद धौलपुर में हालात के बिंगड़ने की आशंका के मद्देनजर अलवर से सेना के जवानों को धौलपुर बुलाया गया है। धौलपुर के प्रभारी एवं पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने “यूनीवार्ता” से बातचीत में बताया कि सेना की एक कम्पनी को धौलपुर बुलाया गया है। इसके अलावा एसडीआरएफ एवं आरएसी को भी बुलाया गया है। ऐसे हालात में अधिकारियों के साथ बैठक करने एवं बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के लिए श्री सिंह भी धौलपुर पहुंच गए है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद इन दोनों जिलो में चम्बल के किनारे बसे कई गावों से जिला मुख्यालय का सम्पर्क कट गया तथा कुछ गावों को खाली कराने के निर्देश भी जिला प्रशासन ने दिये है। चंबल के पूरी तरह उफान पर आने से सवाईमाधोपुर के खंडार में पार्वती नदी के उफान के कारण टोंक शिवपुरी मेगा हाईवे रोड पूरी तरह बंद हो गया है। इससे दांतरदा पुलिया पर चार फुट पानी की चादर चल रही है। जिला कलेक्टर डॉ. एस पी सिंह ने मौके पर पहुंचे है और सेवती कला गांव खाली करने के निर्देश भी दिये है। सुरक्षा की दृष्टि से हालात पर नजरे बनाये हुए है। धौलपुर में लगातार पानी की आवक से नदी किनारे बसे कई गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से कटने के साथ खतरे के निशान से ऊपर 140.10 मीटर पर काफी तेज गति से बह रही चंबल नदी का पानी किसी भी समय 142 मीटर होने पर नदी का पानी चंबल केे पुराने पुल पर आ सकता है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar