जैविक खेती के माध्यम से कम लागत में अधिक उत्पादन-कटारिया

  • Devendra
  • 10/09/2019
  • Comments Off on जैविक खेती के माध्यम से कम लागत में अधिक उत्पादन-कटारिया

जयपुर। (वार्ता) राजस्थान के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने काश्तकारों से जैविक खेती अपनाकर कम लागत में अधिक उत्पादन करने का आह्वान किया है। श्री कटारिया ने आज यहां सिरसी रोड स्थित जनसुनवाई केन्द्र से राज्य में जैविक खेती जागरूकता प्रचार रथ को हरी झंडी दिखाकर प्रगतिशील किसानों के समूह को रवाना करते समय यह आह्वान किया। इस अवसर पर कहा कि वर्तमान समय में खेती में रसायनों का प्रयोग ज्यादा होने से जमीन की उर्वरा शक्ति कम हो रही है और लोगों के स्वास्थ्य पर भी कुप्रभाव पड़ रहा है। चिकित्सकों का भी मानना है कि वर्तमान में कैंसर जैसी कई बीमारियां फसलों में कीटनाशक का अत्यधिक प्रयोग करने से हो रही है। इससे बचने के लिए सरकार जैविक खेती को बढ़ावा दे रही है।

उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि आम जन में जैविक खेती को लेकर सकारात्मक संदेश जाए, जागरूकता का माहौल बने और किसान यह समझ सके कि जैविक खेती से कई लाभ है। उन्होंने कहा कि किसानों को गोबर, केंचुए एवं हरी खाद का प्रयोग करना चाहिए। कीटनाशक के स्थान पर नीम आदि जैविक पदार्थों का छिड़काव करें। इससे किसान को लागत कम आएगी वहीं जमीन स्वस्थ रहेगी एवं उसकी उर्वरा शक्ति बनी रहेगी। इसके अलावा इससे लोगों को भी निरोग बनाने में मदद मिलेगी। श्री कटारिया ने कहा कि जीरो बजट प्राकृतिक खेती और जैविक खेती को बढ़ाने के लिए जनजागरूकता अभियान की शुरुआत की गई है। आगामी नौ नवम्बर तक चलने वाले इस अभियान के तहत विभिन्न जगहों के प्रगतिशील किसान प्रचार रथ के माध्यम से किसानों को जागरूक करेंगे। यह समूह हर जिले में जाकर काश्तकारों से संवाद कर जैविक खेती से संबंधित अपने अनुभव साझा करेगा। कृषक गोष्ठियां और किसान मीट आयोजित कर जैविक खेती के लाभ बताये जायेंगे।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: