‘चाहत है कि मेरी’ लिखी कहानी पर मान्यता बनाये फिल्म: संजय दत्त

  • Devendra
  • 30/08/2019
  • Comments Off on ‘चाहत है कि मेरी’ लिखी कहानी पर मान्यता बनाये फिल्म: संजय दत्त

लखनऊ। (वार्ता) बालीवुड के ‘मुन्ना भाई’ यानी संजय दत्त को उम्मीद है कि नवोदित फिल्म निर्माता पत्नी मान्यता दत्त उनके द्वारा लिखी गयी अनगिनत कहानियों में किसी एक को कभी न कभी रूपहले पर्दे पर जरूर उतारेंगी।

अपनी आगामी फिल्म ‘प्रस्थानम’ के टाइटल सांग की लाचिंग के मौके पर नवाब नगरी आये संजय ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा “ मैने अपने जीवन में कई कहानियां लिखी है। ‘बीबी’ से गुजारिश है कि अपने प्रोडक्शन हाउस में मेरी लिखी हुयी किसी एक कहानी पर फिल्म बनाये।” उन्होने कहा कि राजनीति में आने का उनका कोई इरादा नहीं है। वह अपने फिल्मी करियर से संतुष्ट है। प्रस्थानम में राजनीतिज्ञ का किरदार निभाया है लेकिन असल जीवन में उनकी राजनीति में आने की कोई इच्छा नहीं है। उनसे पूछा गया कि मराठी फिल्म ‘बाबा’ को उन्होने अपने स्वर्गीय पिता ‘सुनील दत्त’ को समर्पित किया था, क्या वह प्रस्थानम को ऐसे किसी राजनेता को समर्पित करेंगे जिसने उन्हे राजनीति में आने में मदद की। फिल्म अभिनेता ने कहा कि वह यह फिल्म किसी राजनेता की बजाय उत्तर प्रदेश काे समर्पित करना पसंद करेंगे क्योकि यह प्रदेश उनके घर जैसा है। वह लखनऊ और कानपुर के लोगों से दिल से जुडे है और यही वजह है कि फिल्म की ज्यादातर शूटिंग यहां हुयी है।

संजय ने उम्मीद जतायी कि वर्ष 2010 में तेलगू में रिलीज हुयी फिल्म ‘प्रस्थानम’ के मुकाबले यह फिल्म कई मायनो में बेहतर होगी और टिकट खिड़की में दर्शकों काे खीचने में सफल होगी। उन्होने कहा “ यह सही है कि तेलगू में रिलीज हुयी प्रस्थानम के फिल्म निर्देशक देवा कट्टा ने ही इस फिल्म का निर्देशन किया है लेकिन कई मायनो में यह फिल्म तेलगू संस्करण से जुदा होगी और दर्शकों का मनोरंजन करने के साथ कई पुरस्कार भी जीतेगी।” फिल्मी सितारों के बच्चों के बालीवुड में पैर जमाने के बारे में पूछे गये एक सवाल पर उन्होने कहा “ प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती। आजकल के आर्टिस्टाें में हुनर की कोई कमी नहीं है। वे मेहनती और काम के प्रति समर्पित होते है। आप किसी को लांच करने में मदद कर सकते हो लेकिन सफलता उसकी मेहनत और समर्पण ही दिलाता है।”

फिल्म निर्माता मान्यता दत्त ने कहा “ जब मैने अपने नये प्रोडक्शन हाउस की शुरूआत की थी, तो संजय ने कहा था कि स्पाट ब्वाय का खास ख्याल रखना चाहिये। इसके साथ आर्टिस्टों की सुख सुविधा और उनके खानपान का भी ध्यान रखना होगा क्योंकि अच्छे काम के लिये किसी भी कलाकार का खुश होना जरूरी है।” फिल्म में संजय दत्त के पुत्र की भूमिका निभा रहे लोकल ब्वाय अली फजल और सत्यजीत दुबे ने कहा “ बाबा के साथ काम करके उनकी दिली तमन्ना पूरी हो गयी। हम उनके बहुत बड़े प्रशंसक हैं। वह एक बेहतरीन कलाकार के साथ बेहतरीन इंसान भी है। राजनीति से जुडी प्रस्थानम एक पारिवारिक ड्रामा है जिसका हर किरदार दर्शकों को बेहद पंसद आयेगा। उम्मीद है कि यह फिल्म बाक्स आफिस पर सफलता के परचम लहरायेगी।”

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar